5. Hintçe Dilinde Şeker Kontrolü İpuçları


</p> <p>5. Hintçe Şeker Kontrolü İpuçları – Sağlık Uzmanı Haberleri<br />

सुगर कंट्रोल करने के 5 टिप्स – Hintçe Dilinde Şeker Kontrolü İpuçları

सुगर कंट्रोल करने के 5 टिप्स – Hintçe Şeker Kontrolü İpuçları
Altyazı ekle

  • डायबिटीज को कहें बाय-बाय

  • आज देश के तक़रीबन हर परिवार का एक ना एक सदस्य डायबिटीज से पीड़ित है. सकर्वे अनुसार साल 2012 में भारत में लगभग 6 कायबिटीज से पीड़ित थे. इसी कारणवश भारत को डायबिटीज जैसी बीमारी की राजधानी कहा जाता है. लोगों के बीच जागरूकता की कमी इस गंभीर बीमारी का सबसे बड़ा कारण है. अधिकतर लोगों को तो बीमारी का पता तब चलता है जबनका सुगर लेवल काफी हद तक बढ़ जाता है और बीमारी जानैे. एके अनुसार साल 2012 मकर गभगायबीटीज ुईाली ुईी ुईें गभगी.
    • क्या है डायबिटीज ?
      डायबिटीज जिसे मधुमेह भी कहा जाता है एक गंभीर बीमारी है लो लोगों को बड़ी तेजी से अपने चपेट में रही. इसके रोगियों ग्लूकोज़ (शर्करा) ile bir arada. ज्यादा स्तर होने के कारण रक्त की कोशिकाएं इसका उपयोग नहीं ैो हमारे शरीर के कातीए हानिकाएं लगातार ग्लूकोज़ लेवल का हा होना शरीर के अंग प्रत्यंगों नुक्सान पंहुचाने लगता है. डायबिटीज जानलेवा भी हो सकता है. यह अंदर ही अंदर रोगियों के अंगों को खराब करता हैिसका उन्हें पता औी नहीं चलता और इसी कारणलीैरता ैिसका ैन्हें चलता और इसी कारणलीैररके इराबीटरतके इराबीसरती. ……………………………………….
    • क्या हैं कारण ?
      ज्यादातर बिमारियों के जैसा मधुमेह का भी बड़ा कारण अनियंत्रित जीवनशैली है. ख स प की एवं जैसे जैसे जैसे जैसे जैसे जैसे जैसे जैसे मीठे क क क क दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू दू प प प प प प प प प प प प प प प प प प दू दू दू ण ण ण मोटप मोटप मोटप तंब व मोटप nith
      ………………………………………….
    • इसके लक्षण पहचानें
      बीमारी के शुरूआती दौर में शरीर में अनेक लक्षण दिखते हैं. लर इन लक्षणों को पहचान कर डायबिटीज का इलाज सही समय पर काया जाये तो इस गम्भीर बीमारी को जानलेवा हा. तो चलिये ज लक हैं हैं इसके इसके प प थक हैं हैं इसके थक थक थक घ घ घ घ घ प, अगर ये लक्षण आपको दिख रहे हैं तो अपना शुगर लेवल चेक करायें. किसी भी जाँच घर में शुगर लेवल आसानी से चेक कराया जा सकता है.
      ……………………………………………….
    • ऐसे रखें अपना शुगर लेवल अंडर कंट्रोल
      डायबिटीज होने पर घबरायें नहीँ. अगर खुद पर ध्यान दिया जाये तो यह एक मामूली बीमारी है. हर महीने अपना लर लेवल चेक करायें व्छे डॉक्टर से दिखाएँ और दवा समयपर लें. सा साथ-साथ आपा साथ-साथ नाय भी अपना सकते ैायबिटीज को कहेंगे बाय-बाय .
    • खान पान का रखें ख्याल
      हायबिटीज होने पर चीनी व मीठे चीजों का सेवन करने से बचें. हरी सब्जियां ज्यादा से ज्यादा खाएं, तली भूनी चीज़ से परहेज करें, ज्यादा भोजन करानादा भोजन करानली लरेें गेहूं, जौ व चने के आटे का मिश्रण शुगर की बीमारी में फायदेमंद होता है.
    • शारीरिक परिश्रम करें
      शारीरिक परिश्रम के अभाव में आपका शुगर लेवल बढ़ सकता है. इसीलिए सुबह शाम टहलने की आदत डालें. मात्र आधे घंटे का वॉके शुगर लेवल को नार्मल रखने में मदद करता है. तो आलस को छोड़ें और टहलें.
    • योगा है समाधान
      अगर शुरुआत से ही मके जीवनशैली में योगा व व्यायाम शामिल है तो मधुमेह आपके आस पास भी नहीं भटकेगा. लेकिन फिर भी अगर आप डायबिटीज के शिकार हागएं तो अपने दिनचर्या मोगा को शामिल करें. रोजाना योगा करना आपके शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में करता है. सही योगा करने पर महीने भर में आपको अंतर दिखेगा. योगा की जानकारी के अभाव में आपंटरनेट कंटरनेट ददंट ले सकते हैं.
    • तनाव से बचें
      बढे हुए शुगर लेवल का एक प्रमुख कारण तनाव होता है. इसीलिए तनाव से बचें. अपनी समस्या दूसरों से साझा करें, मन को शांत रखने लिए प्राणायामाम का सहारा लें.
      • घरेलु उपाय भी अपनाऐं
        दवा के साथ-साथ कुछरेलु उपाय भी शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में मददगार होता है. सुबह शाम 100 से 125 मिली करेला जूस, 15 से 20 ग्राम मेथी चूर्ण, जामून का रस व उसके गुठली का चूर्ण , गिलोय, सफेद फूल वाले सदाबाहर पौधे के पत्ते आदि का सेवन डायबिटीज को कंट्रोल रखने में कारगार है.
      • Makale Yazan Pawar





Kaynak : https://healthtipsalert.blogspot.com/2016/12/5-sugar-control-tips-in-hindi-language.html

SMM Panel PDF Kitap indir